Post Office scheme | पोस्ट ऑफिस स्कीम

क्या आप जानते हैं कि अब Post Office scheme (पोस्ट ऑफिस स्कीम) के तहद पोस्ट ऑफिस में पैसे जमा करने से आपको हर महीने 4500 रुपए सिर्फ ब्याज के तौर पर मिल सकते हैं। आज की इस ब्लॉग में आपको पूरा का पूरा जानकारी मिल जाएगा Post Office Scheme में  जितने सारे स्कीम है उसके बारे में। 

आप सभी जानते हैं कि भारतीय डाकघर में बैंक की तरह पैसा जमा करना और निकालना संभव है। यहाँ भी बैंकों जैसी विभिन्न योजनाएँ हैं जिन्हें पोस्ट ऑफिस स्कीम कहा जाता है। इसमे आप एक पासबूक, चेकबुक ओर ATM कार्ड की सुबिधा का लाभ उठा सकते हो। 

यहां आप व्यक्तिगत खाता या बैंक जैसा संयुक्त खाता खोलकर पैसे का लेनदेन कर सकते हैं। वर्तमान में, भारत सरकार पोस्ट ऑफिस स्कीम के माध्यम से कई लाभजनक योजनाएं चला रही है। जो आमतौर पर बैंक द्वारा आपकी बचत पर ब्याज देने की तुलना में काफी बेहतर राशि ब्याज के तर पर देती है।

Post Office Scheme क्या है?

जैसे आप बैंक जाते हैं और वहां पैसे जमा करने के लिए खाता खोलते हैं, वैसे ही आप डाकघर में भी खाता खोल सकते हैं और अपना पैसा जमा कर सकते हैं।

पोस्ट ऑफिस को बैंक में बदलने की भारत सरकार की पहल निश्चित रूप से काबिले तारीफ है। क्योंकि पोस्ट ऑफिस उन जगहों में से एक है जो भारत को सबसे ज्यादा मदद करता है। क्योंकि हर क्षेत्र एक पोस्ट ऑफिस के अंतर्गत आता है। पोस्ट ऑफिस लंबे समय से काम कर रहे हैं इसलिए भारत सरकार उन्हें बहुत आसानी से बैंक में बदलने में सक्षम है।

Post Office Scheme

जैसे कि बैंक आपको जमा राशि के बदले आपको ब्याज देते है ऐसे ही पोस्ट आफिस में भी जमा राशि के बदले आपको बैंक के तुलना में अच्छे ब्याज मिल जाएगा।

जैसे बैंक में पैसे जमा करने का अलग अलग Deposit Scheme है, ऐसे ही Post Office Scheme मैं बहत सारे अलग अलग Deposit Scheme का लाभ उठा सकते हो। जिसके बारे में हम बिस्तर से बातचीत करेंगे।

बैंक की तरह Savings Account खुल सकते हो, Senior Citizen के लिए भी अलग से एकाउंट खुल सकते हो। Post Office RD Scheme का भी लाभ उठा सकते हो साथ मैं ओर भी 7 तरह की Post Office Scheme के बारे में आज हमलोग बातचीत करेंगे।

Post Office Scheme का प्रकार

बैंकों की तरह वर्तमान में भी डाकघरों में विभिन्न Post Office Scheme चल रही हैं और जनता इनका लाभ उठा सकती है। वर्तमान में भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही पोस्ट ऑफिस स्कीम के नाम और विवरण नीचे वर्णित हैं।

  • Post Office Savings Account(SB)​ – पोस्ट ऑफिस बचत खाता (एसबी)
  • National Savings Recurring Deposit Account(RD) – राष्ट्रीय बचत आवर्ती जमा खाता (आरडी)
  • National Savings Time Deposit Account(TD) – राष्ट्रीय बचत सावधि जमा खाता (टीडी)
  • National Savings Monthly Income Account(MIS) – राष्ट्रीय बचत मासिक आय खाता (एमआईएस)
  • Senior Citizens Savings Scheme Account(SCSS)​ – वरिष्ठ नागरिक बचत योजना खाता (एससीएसएस)
  • Public Provident Fund Account(PPF) – लोक भविष्य निधि खाता (पीपीएफ)
  • Sukanya Samriddhi Account(SSA)​ – सुकन्या समृद्धि खाता (SSA)
  • Kisan Vikas Patra(KVP) – किसान विकास पत्र (केवीपी)
  • Post Office Fixed Deposit(FD) – डाकघर सावधि जमा (एफडी)

ऊपर सूचीबद्ध सभी Post office scheme में अलग-अलग नियम और शर्तें है। और ब्याज की अलग-अलग दरें हैं। जिन पर विस्तार से चर्चा करने की आवश्यकता है।

Security Of Post Office Scheme – पोस्ट ऑफिस स्कीम की सुरक्षा

दोस्तों पोस्ट ऑफिस में आपको पैसे जमा करने से पहले आपको ये भी जानना पड़ेगा की आपका पैसा कितना सुरक्षित रहेगा। सबसे पहले आपको बताना चाहूँगा बैंक में पैसा जमा करने से अधिकतम 5 लाख रूपिया की सुरक्षा की जिम्मेदारी बैंक लेती है।

लेकिन आपको ध्यान रखना है पोस्ट ऑफिस स्कीम सम्पूर्ण रूप से सरकार के द्वारा नियंत्रित होता है। इसलिए पोस्ट ऑफिस मे अलग अलग स्कीम के तहद जितना पैसा जमा किया जा सकता है बो सब सम्पूर्ण रूप से सुरक्षित रहेगा।

मैंने पहले ही बता चुका हु की पोस्ट ऑफिस में जीतने सारे स्कीम चलते है सारे के सारे बैंक के तुलना में बहत अछे पैसे ब्याज के तर पे देते है।

Post Office Savings Account(SB)​ – पोस्ट ऑफिस बचत खाता (एसबी)

बैंक की तरह आप भी पोस्ट ऑफिस में बचत खाता खोल सकते हैं। और आप जितना चाहे उतना पैसा जमा कर सकते हैं। जहां से आपको अच्छा खासा ब्याज दिया जाता है।

जब भी आप भारत में किसी भी पोस्ट ऑफिस से Post Office Savings Account खोलते हैं, तो आपको केंद्र सरकार की तीन योजनाओं का पूरा लाभ मिलेगा।

  • Atal Pension Yojana (APY) – अटल पेंशन योजना (APY)
  • Pradhan Mantri Suraksha Bima Yojana (PMSBY) – प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (पीएमएसबीवाई)
  • Pradhan Mantri Jeevan Jyoti Bima Yojana (PMJJBY) – प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (पीएमजेजेबीवाई)

अभी आपको इन सारे सुविधाओं के साथ-साथ और जी कुछ सुविधाएं जैसे आपको बैंक में मिलता है यहां पर भी मिलने वाले हैं। जैसे कि बैंक में एक बचत खाता खोलने पर आपको कुछ सामान मिलता है यहां भी वह सामान मिलेगा।

  • Cheque book – चेक बुक
  • ATM Card – एटीएम कार्ड
  • ebanking/mobile banking – ई बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग
  • Aadhaar Seeding – आधार सीडिंग

जिस तरह बैंक की एक चेक बुक होते पोस्ट ऑफिस से मिलने वाला चेक बुक भी उसी तरह काम करेगा। आप ईस चेक बुक क को किसी भी बैंक में इस्तेमाल कर सकते हो।

बैंक से मिलने वाला एटीएम कार्ड की तरह पोस्ट ऑफिस से जो एटीएम कार्ड मिलेगा उसको भी आप किसी भी जगह इस्तेमाल कर सकते हो। किसी भी एटीएम से पैसा निकाल सकते हो। ऑनलाइन किसी भी चीज खरीदने के समय उस कार्ड को इस्तेमाल कर सकते हो।

अधिक पढ़ें – ऑनलाइन पैसे कमाने के तरीके

ई बैंकिंग या फिर मोबाइल बैंकिंग के तहत जैसे आप लोग UPI कर सकते हो किसी भी बैंक अकाउंट बनाने के बाद। ठीक उसी तरह पोस्ट ऑफिस में सेविंग स्कीम अकाउंट बनवाने के बाद आप उसका सुविधा ले सकते हो।

किसी अन्य जगह आपके फिंगरप्रिंट को इस्तेमाल करके आप नगद राशि जमा या पैसा निकाल सकते हो.

पोस्ट ऑफिस सेविंग्स स्कीम में खाता कैसे बनाए – Post office savings account open

अब हम लोग बात करेंगे पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम में खाता बनवाने के लिए आपकी आयु सीमा कितना होना चाहिए। ज्यादा से ज्यादा आप कितना पैसा जमा कर सकते हो। ब्याज के तौर पर आपको कितना पैसा वापस किया जाता है।

जब आप पहली बार पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम का बचत खाता ओपन करेंगे तब आपको कम से कम ₹500 जमा करना पड़ेगा।

उसके बाद आप जितने बार चाहे पैसा जमा कर सकते हो। लेकिन आपको एक बार में कम से कम ₹100 रुपए जमा करना पड़ेगा।

पोस्ट ऑफिस की सरकारी वेबसाइट में निर्दिष्ट कोई राशि के बारे में बात नहीं की गई है। कि आप एक बार में ज्यादा से ज्यादा कितना पैसे जमा कर सकते हो।

पोस्ट ऑफिस से जब भी आप पैसा निकालने के लिए जाते हो तो आप को कम से कम ₹50 तो निकलना ही पड़ेगा और साथ में यह भी ध्यान रखना पड़ेगा कि आपके बचत खाता में कम से कम ₹500 हमेशा बना रहे।

अगर आपने ₹500 जमा करके जो खाता ओपन किए थे उसके आगे साल भर तक एक भी पैसा जमा नहीं करोगे तो आर्थिक वर्ष के अंत में आपके अकाउंट से 100 रुपया कट जाएगा मेंटेनेंस के लिए।

ध्यान रखेSilent Account: अगर पोस्ट ऑफिस स्कीम में खाता ओपन करने के बाद अगले 3 आर्थिक बर्ष तक एक भी पैसे आपके खाते में लेन देन ना हुई तो आपके खाता बंद हो जाएगा। उस समय आप को फिर से केवाईसी के माध्यम से उस खातों को चालू करना पड़ेगा।

पोस्ट ऑफिस सेविंग्स स्कीम की आयु सीमा – Age limit of Post Office Savings Scheme

इसमें सबसे ज्यादा ध्यान देने वाली बात है कि अगर आप पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम में खाता ओपन करना चाहते हो तो आपका उम्र कितना होना चाहिए।

यहां पर अलग-अलग उम्र के लोगों के लिए अलग-अलग रास्ते हैं अकाउंट ओपन करने के लिए। जैसे कि..

  • एक प्राप्त वयस्क व्यक्ति
  • दो प्राप्त वस्तु व्यक्ति एक ज्वाइंट अकाउंट खोल सकते हैं
  • कोई नाबालिक व्यक्ति उनकी माता पिता के सहायता में खाता खोल सकते हैं
  • अभिभावक की मदद से विकृत दिमाग वाले व्यक्ति का खाता खोला जा सकता है
  • 10 साल से ऊपर के बच्चे अपने नाम से खाता खुलवा सकते हैं।

इसके अलावा और भी कुछ शर्त है इनको जान आपके लिए बेहद जरूरी है।

  • पोस्ट ऑफिस स्कीम में एक व्यक्ति सिर्फ एक ही खाता खोल सकते हैं। एक से अधिक खाता तभी खोला जाएगा जब वह किसी के साथ ज्वाइंट अकाउंट ओपन करेगा।
  • अवयस्क/10 वर्ष से अधिक आयु (स्वयं)/मानसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्ति के नाम पर केवल एक ही खाता खोला जा सकता है।
  • संयुक्त खाता में अगर किसी एक व्यक्ति का मृत्यु होता है तो उसमें दूसरे व्यक्ति को मुख बनाया जाता है। अगर इस समय उस व्यक्ति का किसी एकक खाता उस स्कीम में पहले से होता है, तो संयुक्त खाता को बंद कर दिया जाता है।
  • किसी भी तरीके से एकक खाता को संयुक्त खाता में रूपांतरित नहीं की जा सकती है। या फिर संयुक्त खाता को एकक खाता में रूपांतर नहीं किया जा सकती है।
  • जब आप पोस्ट ऑफिस स्कीम में खाता खोलते हो तो उस समय एक नोमिनी अवश्य रखना पड़ेगा।
  • एक अ-वयस्क व्यक्ति जब प्राप्त वयस्क हो जाता है तो उस समय उनके खाते की केवाईसी करना पड़ेगा और नया एप्लीकेशन फॉर्म जमा करना पड़ेगा।

new interest rates on post office schemes – पोस्ट ऑफिस सेविंग्स स्कीम पर नई ब्याज दरें

Post Office Savings Scheme में आपको 4% ब्याज मिलता है लेकिन कुछ शर्तें हैं जिनका आपको पालन करना होगा।

  • पोस्ट ऑफिस सैविंग स्कीम पर व्यक्तिगत और संयुक्त खातों पर 4% प्रति वर्ष की दर से ब्याज का भुगतान करती है।
  • आपको प्रत्येक माह की 10 तारीख से माह के अंत तक आपके खाते में जमा की गई न्यूनतम राशि के आधार पर ब्याज का भुगतान किया जाएगा।
  • अगर आपका न्यूनतम बैलेंस महीने के 10वें और आखिरी महीने के बीच 500 रुपये से कम है तो कोई ब्याज नहीं दिया जाएगा।
  • प्रत्येक वित्तीय वर्ष के अंत में वित्त मंत्रालय द्वारा निर्धारित ब्याज दर पर आपके खाते में ब्याज जोड़ा जाएगा।
  • जब कोई खाताधारक अपना खाता बंद करना चाहता है, तो उस खाताधारक को पिछले महीने तक के ब्याज की गणना करने के बाद ही ब्याज का भुगतान किया जाएगा।
  • सभी बचत बैंक खातों पर आयकर अधिनियम की धारा 80TTA के तहत रु. एक वित्तीय वर्ष में अर्जित 10,000 को कर योग्य आय से छूट प्राप्त है

मुझे उम्मीद है कि मैंने आपको डाकघर बचत योजना के बारे में पर्याप्त जानकारी दी है। अधिक जानकारी के लिए आप भारतीय डाकघर की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

National Savings Recurring Deposit Account(RD) – राष्ट्रीय बचत आवर्ती जमा खाता (आरडी)

इस योजना के तहत आप हर महीने पांच साल तक पैसा जमा कर सकते हैं और इसके बदले डाकघर आपको 5.8 प्रतिशत की दर से ब्याज देगा।

Continue……

Leave a Comment